Saturday, 13 April 2024

विज्ञान की उपलब्धि – अंतरिक्ष पर पेट्रोल पम्प

नई दिल्ली -अब अंतरिक्ष में भी पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी जारी है। अंतरिक्ष में प्रोटोटाइप रिफलिंग स्टेशन का सफल…

विज्ञान की उपलब्धि – अंतरिक्ष पर पेट्रोल पम्प

नई दिल्ली -अब अंतरिक्ष में भी पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी जारी है। अंतरिक्ष में प्रोटोटाइप रिफलिंग स्टेशन का सफल परीक्षण किया जा  चुका है। अब तक जो सैटेलाइट धरती की कक्षाओं में स्थापित हैं वो फ्यूल न होने की वजह से निष्क्रिय हो जाते हैं। मगर आने वाला समय सैटेलाइट्स के लिए काफी शानदार होने वाला है। अब आने वाले समय में सैटेलाइट्स को फ्यूल की वजह से निष्क्रिय नहीं होना पड़ेगा। जो भी यान मंगल ग्रह पर या फिर चांद पर भेजे जाएंगे, उन्हें भी अब फ्यूल  की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। अब यानों को भी अंतरिक्ष मे रहते हुए ही फ्यूल फिल करने की सुविधा मिल जाएगी।

इस शानदार प्रोटोटाइप रिफ्यूलिंग स्टेशन का सफल परीक्षण सैन फ्रांसिस्को में स्थित एक स्टार्टअप कंपनी ने किया है। इस कंपनी ने धरती की कक्षाओं में स्थित सैटेलाइट्स के लिए अंतरिक्ष में ही पेट्रोल पंप को खड़ा कर दिया है। सैन फ्रांसिस्को की इस कंपनी का नाम ऑर्बिट फैब है। कंपनी ने जो रिफ्यूलिंग स्टेशन को स्थापित कर दिया है, उसका नाम तेनजिंग टैंकर- 001 है। कंपनी के इस कार्य के लिए उसे सराहा गया है और साथ ही साथ उसे 10 मिलियन डॉलर्स यानी कि 73.67 करोड़ रुपये का फंड भी प्रदान किया जाएगा। तेनजिंग टैंकर को कंपनी ने स्पेसएक्स ट्रांसपोर्टर-2 के साथ मे ही लांच किया है।

अगर बात करें तेनजिंग टैंकर- 001 की तो ये देखने मे एक माइक्रोवेव की तरह ही लगता है। इसका आकार माइक्रोवेव की तरह ही है। ये धरती के चारो तरफ चक्कर लगाएगा और ये चक्कर ये सूरज की कक्षा में रहकर ही लगाएगा। इससे मौसम से जुड़ी जानकारी भी मिल जाएगी और साथ ही ये धरती की तस्वीरों को भी कैप्चर करेगा। इससे सैटेलाइट जिनका फ्यूल खत्म हो गया है वो आसानी से फ्यूल फिल कर पाएंगी और निष्क्रिय से सक्रिय रूप में आ पाएंगी।

Related Post