Thursday, 18 April 2024

अब्बाजान पर घमासान

नई दिल्ली/ लखनऊ (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कुशीनगर में दिए गए एक बयान से सियासी घमासान…

अब्बाजान पर घमासान

नई दिल्ली/ लखनऊ (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कुशीनगर में दिए गए एक बयान से सियासी घमासान छिड़ गया है। इस बयान के सामने आने के बाद से विपक्षी नेताओं ने योगी के खिलाफ जुबानी जंग तेज कर दी है। बता दें कि योगी ने रविवार को कुशीनगर में बयान देते हुए कहा था कि 2017 के पहले गरीबों को राशन नहीं मिलता था क्योंकि तब ‘अब्बाजानÓ कहने वाले ही राशन हजम कर जाते थे।

अब्बाजान कहे जाने वाले हजम कर जाते थे राशन: योगी

दरअसल भाजपा के ‘सबका साथ, सबका विकासÓ नारे को गति देने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को कुशीनगर पहुंचे थे। सपा-बसपा की पूर्ववर्ती सरकारों पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 के पहले राशन तक नहीं मिलता था। अब्बाजान कहे जाने वाले लोग उसे हजम कर जाते थे। कुशीनगर का राशन नेपाल और बांग्लादेश जाता था। आज गरीबों का राशन निगलने वाले जेल जाएंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाम लिए बगैर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी को निशाने पर लिया है। कुशीनगर में सैकड़ों करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास करते हुए योगी ने नाम लिए बगैर कांग्रेस को आतंकवाद की जननी और समाजवादी पार्टी को बिच्छू करार दिया। योगी ने सपा के साथ बसपा को घेरा और कहा कि इनकी सरकारों ने बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित न करते लोगों को ‘अंधेरे में रखा।

आपके कौन से अब्बाजान हैं और कौन से भाईजान हैं? उन्होंने आगे कहा कि यह पूरे देश को पता है। पीएम ने उन्हें हटाने की कोशिश की, लेकिन संघ की वजह से हटा नहीं पाए। जिस सरकार में हाथरस जैसी घटना हो जाए, सरकार को एक क्षण भी शासन में रहने का हक नहीं है।

Related Post