Saturday, 18 May 2024

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: आखिर एक ऑस्ट्रेलियाई ने ऐसा क्या किया? बन गया भारतीयों की आँख का तारा

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: पिछले दिनों विश्व कप 2023 खेला गया था। इस विश्व कप के फाइनल में टीम इंडिया को…

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: आखिर एक ऑस्ट्रेलियाई ने ऐसा क्या किया? बन गया भारतीयों की आँख का तारा

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: पिछले दिनों विश्व कप 2023 खेला गया था। इस विश्व कप के फाइनल में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। भारत का विश्व विजेता बनने का सपना तोड़ने के कारण ऑस्ट्रेलियाई भारतीयों के लिए खलनायक की तरह नजर आने लगे थे। लेकिन ऐसा कुछ हुआ कि एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक भारतीयों की आँख का तारा बन गया। आखिर ऐसा क्या हुआ कि एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक ने भारतीयों के दिल में जगह बना ली, ये कैसे संभव हुआ और कौन है ये ऑस्ट्रेलियाई नागरिक? आइए जानते हैं।

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: कैसे अर्नोल्ड डिक्स बने भारतीयों के लिए नायक?

ये ऑस्ट्रेलियाई नागरिक हैं अर्नोल्ड डिक्स, जोकि एक अंतरराष्ट्रीय टनलिंग एक्सपर्ट हैं। जैसा कि आपको पता ही होगा कि गत 12 नवंबर को उत्तराखंड के उत्तरकाशी में एक टनल में 41 मजदूर फंस गए थे। सिल्क्यारा टनल में 17 दिनों से फंसे सभी 41 मजदूरों का रेस्क्यू कर लिया गया। 400 घंटों तक फंसे रहने के बाद इन मजदूरों को गत मंगलवार को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। इस रेस्क्यू ऑपरेशन में अर्नोल्ड डिक्स ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

अफ्रीका के खिलाफ स्क्वाड का ऐलान, कई नए चेहरे शामिल तो कई दिग्गज बाहर

प्रोफ़ेसर अर्नोल्ड डिक्स सुरंग का आकलन करने के लिए 20 नवंबर को उत्तरकाशी पहुंचे थे। उस समय पहाड़ ढहने की आशंका थी, इसीलिए उन्होंने इलाक़े का भलीभाँति मुआयना किया। अनिश्चितता के माहौल के बावजूद, डिक्स इकलौते थे जो अधिकारियों को आश्वासन दे रहे थे कि क्रिसमस से पहले मज़दूरों को बचा लिया जाएगा।

इस रेस्क्यू अभियान में ऑस्ट्रेलिया के टनल विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स के पहुंचने के बाद तेजी आ गई थी। उनके विश्वास और प्रयासों ने इस ऑपरेशन की सफलता में बड़ा योगदान दिया। उनकी कार्यशैली और आस्था को देखकर लोग उनके फैन हो गए हैं। भारत के लोगों के लिए वो एक हीरो बनकर उभरे हैं। लोग उनकी खूब प्रशंसा कर रहे हैं और उन्हें सिर आँखों पर बिठा रहे हैं।

दमोह दुष्कर्म केस: फिर हुई मानवता शर्मसार, मूक-बधिर नाबालिग का हुआ रेप

अर्नोल्ड डिक्स भी बने भारत के फैन

इस रेस्क्यू ऑपरेशन में तकनीक के साथ आस्था के आगे भी लोगों ने घुटने टेके। विज्ञान के साथ-साथ विदेशी प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स की धर्म में भी आस्था देखी गई। टनल के बाहर स्थापित किए गए बाबा बौखनाग के मंदिर में पूजा करने वालों में अर्नोल्ड डिक्स भी शामिल थे। वो भी बाबा बौखनाग के मंदिर के आगे नतमस्तक हो गए। बाबा बौखनाग के दर्शन करने बाद हर बार अर्नोल्ड बेहद भावुक और अभिभूत नजर आए।

ऑस्ट्रेलिया के टनल विशेषज्ञ अर्नोल्ड डिक्स यहां आकर भारत के फैन बन गए हैं। उनकी देवभूमि के देवता के प्रति आस्था को देखकर स्थानीय लोग भी बेहद खुश हैं। अर्नोल्ड डिक्स इसके अलावा भारतीय खाने के भी फैन हो गए हैं। भारत का शाकाहारी भोजन बहुत शानदार और स्वास्थ्यवर्धक है। अर्नोल्ड डिक्स का भारत में मन इतना रच-बस गया है कि वो अभी वापस नहीं जाना चाहते हैं।

इजराइल पर फिर हमला: 3 नागरिकों की हुई मौत, दोनों हमलावर भी मारे गए

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो: कौन है अर्नोल्ड डिक्स?

अर्नोल्ड डिक्स ऑस्ट्रेलिया के एक नागरिक हैं, जो स्विट्ज़रलैंड के इंटरनैशनल टनलिंग एंड अंडरग्राउंड स्पेस असोसिएशन (जेनेवा) के प्रमुख हैं। पिछले 3 दशकों से वो भूमिगत निर्माण की सुरक्षा के इर्द-गिर्द काम कर रहे हैं। उत्तरकाशी जैसी घटनाओं की तरह होने वाली घटनाओं के लिए उन्हें याद किया जाता है। भूमिगत निर्माण से संबंधित क़ानूनी, तकनीकी और पर्यावरणीय एक्सपर्टीज़ के लिए अर्नोल्ड डिक्स को दुनियाभर में बुलाया जाता है। यही नहीं इसके अलावा वो एक डॉक्टर, भूविज्ञानी, प्रोफ़ेसर, इंजीनियर और वकील भी हैं।

ऑस्ट्रेलियाई बना हीरो

क्रिकेट के अनूठे नियम: जिनसे दर्शक क्या खिलाड़ी भी हो जाते हैं कंफ्यूज

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post