Saturday, 13 April 2024

Engineers Day: इंजीनियर्स को पीएम मोदी ने दी बधाई

नई  दिल्ली: देश में हर तरह के लोग द्वारा 15 सितंबर को अभियंता दिवस यानी इंजीनियर्स डे के रूप में…

Engineers Day: इंजीनियर्स को पीएम मोदी ने दी बधाई

नई  दिल्ली: देश में हर तरह के लोग द्वारा 15 सितंबर को अभियंता दिवस यानी इंजीनियर्स डे के रूप में मनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर बधाई दे चुके हैं। उन्होंने बताया कि देश को प्रगति और तकनीकी रूप से उन्नत बनाने के लिए इंजीनियरों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। इस दिन की उनको बधाई दी गई है।

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए जानकारी दिया कि, ‘सभी मेहनती इंजीनियर डे की बधाई दी जा चुकी है। हमारे ग्रह को बेहतर और तकनीकी रूप से उन्नत बनाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका के लिए उन्हें धन्यवाद देने के लिए कोई शब्द काफी नहीं है। मैं श्री एम. विश्वेश्वरय्या को उनकजयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की गई और उनकी उपलब्धियों को याद करता रहता हूँ।’ असल में इंजीनियर डे को डॉ. मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के कारण मनाया जाने लगा। पीएम मोदी एम. विश्वेश्वरय्या को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि भी अर्पित की जा चुकी है।

इसे अभियंता दिवस भी माना जाता है। देश के विकास में इंजीनियर्स ने महत्वपूर्ण योगदान दिया है। आपदा से लेकर निर्माण तक इंजीनियर्स के बिना कुछ भी नही हो सकता है। देश के विकास के धूरि इंजीनियर्स ही की माना जाता रहा है। भारत रत्न सर डॉ. मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया के जन्मदिवस के रूप में इसे भारत में मनाया जााता है।  मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया का जन्म मैसूर में 15 सितम्बर 1861 को हुआ था। विश्वेश्वरैया भारतीय सिविल इंजीनियर, विद्वान और राजनेता थे।

सन1883 में पूना के साइंस कॉलेज से इंजीनियरिंग में स्नातक पूरा करने के बाद विश्वेश्वरैया को तत्काल ही सहायक इंजीनियर पद पर सरकारी नौकरी दी गई थी।  वे मैसूर के 19वें दीवान थे और 1912 से 1918 तक रहे हैं। मैसूर में किए गए उनके कामों के कारण उन्हें मॉर्डन मैसूर का पिता माना जाने लगा है। इस मौके पर इंजीनियरिंग कॉलेजों में स्टूडेंट्स को उनके अचीवमेंट्स पर अवॉर्ड दिए जा रहे हैं। सन 1955 में विश्वेश्वरैया जी को भारत का सबसे बड़ा सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया गया जा चुका है।

Related Post