Tuesday, 23 July 2024

अचानक क्यों रोने लगे बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ?

MP News : बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री अचानक रोने लगे। सामान्य ढंग से नहीं बल्कि खूब फूट-फूटकर रोए…

अचानक क्यों रोने लगे बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ?

MP News : बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री अचानक रोने लगे। सामान्य ढंग से नहीं बल्कि खूब फूट-फूटकर रोए धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री। क्या है बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के रोने का कारण हम आपको विस्तार से बता रहे हैं। दरअसल बाबा बागेश्वर धाम में हर साल गरीब कन्याओं का सामूहिक विवाह कराया जाता है। इस साल बागेश्वर धाम वाले बाबा धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री की देखरेख में 157 कन्याओं का विवाह कराया गया। धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री के फूट-फूटकर राने का कारण यह विवाह समारोह ही बन गया।

MP News

ऐसे रोए बाबा बागेश्वर धाम वाले शास्त्री जी

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले के बागेश्वर धाम में शुक्रवार को गरीब परिवार की 156 कन्याओं का विवाह संपन्न हुआ। पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने यह आयोजन करवाया। विदाई की बेला आई तो नवविवाहित कन्याएं विवाह समारोह के मेजबान धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री से लिपटकर रोने लगीं। बड़े भाई की तरह शास्त्री ने भी दुल्हन बनी कन्याओं को आशीर्वाद दिया।  इस दौैरान बाबा बागेश्वर धाम वाले बाबा धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री खूब फूट-फूटकर रोए।

इस विशाल आयोजन की शुरुआत दूल्हा और दुल्हन के स्वागत से हुई। स्वागत खुद बागेश्वर धाम के महाराज धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने ढोल-नगाड़ों के साथ किया और जोड़ों का मंच तक लेकर आए। मंच पर एक-दूसरे को जयमाला पहनाने की रस्म अदा की गई।  मंच पर मौजूद अतिथियों ने वर-वधू को आशीर्वाद दिया और उसके बाद मंडप ने नीचे होने वाली रस्में हुईं तो दूल्हा-दुल्हन की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इन सभी जोड़ों ने जयमाला कार्यक्रम के साथ ही मंडप में सात फेरे लेते हुए एक दूसरे को अपनाया।

बता दें कि बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की ओर से इस वर्ष पांचवां सामूहिक विवाह महोत्सव कराया गया। इस वर्ष सभी जोड़ों को 157 प्रकार की घरेलू सामग्री भेंट स्वरूप दी गई। इसमें मोटरसाइकिल से लेकर रामायण- गीता भी शामिल हैं।

अगले साल होंगे 251 विवाह

इस पूरे आयोजन को लेकर बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। कहा कि इस साल यानी 2024 के विवाह महोत्सव का पूरा आयोजन मंदिर में चढने वाली चढ़ोत्तरी से संपन्न हुआ है। धीरेंद्र शास्त्री बोले कि अगले वर्ष यानी 2025 में मोटरसाइकल देने की बजाए जोड़ों की संख्या बढ़ाई जाएगी, क्योकि जितना खर्च सामग्री में आता है, उतने में कई निर्धन कन्याओं का विवाह संपन्न हो सकता है, इसलिए अगले वर्ष 251 निर्धन कन्याओं का विवाह कराया जाएगा। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव इस विशाल सामूहिक कन्या विवाह महोत्सव में शामिल हुए और नव दंपत्तियों को आशीर्वाद दिया। आयोजन में अतिथि के रूप में पहुंचे CM मोहन यादव ने आयोजन की सराहना करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश सरकार भी शदियों के आयोजन कराती है। सरकारी की तरफ से आयोजित कार्यक्रमों में बगैर मुहूर्त के विवाह होते हैं और अगर बागेश्वर महाराज सरकार के साथ विवाह आयोजन करना चाहें तो सरकार मदद के लिए सदैव तैयार है। तो अब आप समझ ही गए होंगे कि आखिर अचानक क्यों रोने लगे थे बाबा बागेश्वर धाम वाले धीरेन्द्र कृष्ण शास्त्री।

चौधरी चरण सिंह के बड़े सपने को पूरा करेंगे योगी, बनाई योजना

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post