Tuesday, 28 May 2024

एप्पल की सफाई: विपक्षी नेताओं के हैकिंग के आरोपों पर आया एप्पल का बयान

एप्पल की सफाई: 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के प्रचार के बीच कई विपक्षी नेताओं ने अपने एप्पल फोन पर…

एप्पल की सफाई: विपक्षी नेताओं के हैकिंग के आरोपों पर आया एप्पल का बयान

एप्पल की सफाई: 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के प्रचार के बीच कई विपक्षी नेताओं ने अपने एप्पल फोन पर सरकारी तंत्र द्वारा हैकिंग किए जाने के प्रयास किए जाने के मैसेज आने के आरोप लगाए हैं। इन विपक्षी नेताओं में महुआ मोइत्रा, राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल, प्रियंका चतुर्वेदी, पवन खेड़ा, अखिलेश यादव, असदुद्दीन ओवेसी, शशि थरूर, राघव चड्डा, सुप्रिया सुले आदि शामिल हैं। इन नेताओं के आरोपों पर अब एप्पल की ओर से इस बारे में स्पष्टीकरण आया है।

एप्पल की सफाई: एप्पल ने ऐसी सूचना दिए जाने से किया इंकार

इस विवाद के बाद एप्पल कंपनी की ओर से सफाई आई है। दिग्गज टेक कंपनी एप्पल ने कहा है कि “हमने किसी को भी राज्य प्रायोजित हैकिंग के प्रयास का मैसेज नहीं भेजा है। ये संदेश कैसे गए हम इसकी जांच कर रहे हैं और इस बारे में कुछ भी बताने में असमर्थ हैं। कुछ अटैक अलार्म गलत हो सकते हैं। हमारे फोन वैसे भी हैक नहीं होते।”

केशव महाराज की प्रेम-कहानी है फिल्मी, यूपी से इस क्रिकेटर का गहरा नाता

सरकार की ओर से विपक्ष के आरोपों पर आया जवाब

सरकार की ओर से आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि “सरकार इन आरोपों को पूरी गंभीरता से ले रही है। अगर ऐसा कुछ हुआ है, तो ये चिंता का विषय है। सरकार इसकी पूरी जांच करेगी और मामले की तह तक जाएगी।”

एप्पल की सफाई

साथ ही विपक्षी दलों पर ये आरोप भी लगाया कि “कुछ लोगों को शिकायत करने की आदत हो गई है। ये लोग देश का विकास नहीं देख सकते। एप्पल ने 150 देशों में ये सूचना जारी की है। एप्पल के पास कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने सिर्फ अनुमान के आधार पर ये सूचना भेजी है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के पास भी ऐसा ही संदेश आया है।”

मेसी की उपलब्धि: रिकॉर्ड 8वीं बार मेसी ने जीता बैलोन डी’ ओर अवार्ड

इससे पहले विपक्ष ने लगाए थे सरकारी तंत्र द्वारा हैकिंग के प्रयास किए जाने का अलर्ट आने के आरोप

इससे पहले विपक्ष के कई नेताओं ने जिनमें टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा, शिवसेना उद्धव गुट नेता की प्रियंका चतुर्वेदी, कांग्रेस नेता शशि थरूर और पवन खेड़ा भी शामिल हैं, इन सभी ने कहा था कि उन्हें अपने फोन निर्माता एप्पल से चेतावनी का संदेश मिला है। इसके बाद कई और नेताओं ने भी इसी तरह के संदेश आने की शिकायत की थी। वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर जासूसी का आरोप लगाते हुए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी।

एप्पल की सफाई

नगर निगम ने व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को दिए सख्त निर्देश, खुद निस्तारित करें अपना कूड़ा

देश विदेशकी खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंचके साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post