Sunday, 14 July 2024

आप छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए अशोक तंवर, सीएम की मौजूदगी में ली सदस्यता

Haryana News : हरियाणा में में लोकसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) को एक बड़ा झटका मिला है।…

आप छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए अशोक तंवर, सीएम की मौजूदगी में ली सदस्यता

Haryana News : हरियाणा में में लोकसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) को एक बड़ा झटका मिला है।  आम आदमी पार्टी की हरियाणा चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष अशोक तंवर ने शनिवार को बीजेपी का दामन थाम लिया है। अशोक तंवर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और अनिल बलूनी की मौजूदगी में अपने समर्थकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए है।

Haryana News

भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता हासिल करने के बाद अशोक तंवर ने कहा- मेरा सौभाग्य है कि 22 जनवरी को राम मंदिर प्रतिष्ठा समारोह से पहले बीजेपी में शामिल हुए हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में पिछले दस वर्षों में देश बदल गया है। पीएम मोदी जो भी गारंटी देते हैं, वह उसे पूरा करते हैं।

‘बीजेपी को 400 सीट जीतने के लिए करेंगे काम’

बीजेपी में शामिल होने के बाद अशोक तंवर ने कहा- मैं पीएम मोदी द्वारा भारत को नंबर वन बनाने के लिए किए जा रहे कार्यों से प्रभावित हूं। मैं जितना हो सकेगा राष्ट्र निर्माण की दिशा में काम करूंगा। तंवर ने कहा हम 2024 में 400 लोकसभा सीटें जीतने के लिए सीएम मनोहर लाल खट्टर और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नायब सैनी के साथ एक टीम के रूप में काम करेंगे।

सीएम खट्टर ने कही ये बात

वहीं हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा, हरियाणा बीजेपी के लिए राज्य में अपने विस्तार का बड़ा दिन है। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और आम आदमी पार्टी के वर्तमान नेता अशोक तंवर अपने समर्थकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए हैं। वह रिश्ते में मेरा भांजा हैं, उनकी मां और मैं एक ही गांव के हैं। जब वह कांग्रेस में थे, तब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला किया, तो मुझे दुख हुआ। सीएम खट्टर ने कहा कि वह (अशोक तंवर) कांग्रेस से तंग आकर बीजेपी में शामिल होना चाहते थे। उन्होंने कांग्रेस छोड़ दी थी, लेकिन अप्रैल 2022 में बीजेपी के बजाय आम आदमी पार्टी में शामिल होने की गलती कर दी। लेकिन AAP में अपने कड़े अनुभव के बाद वह बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

सिरसा सीट से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

अशोक तंवर के बीजेपी में शामिल होने पर इस बात की चर्चा तेज हो गई है कि आखिर बीजेपी में उन्हें कौन सी जिम्मेदारी मिलने वाली है। आपको बता दे कि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की ओर से दावा किया जा रहा है कि अशोक तंवर के बीजेपी में शामिल होने के बाद उन्हे सिरसा लोकसभा सीट से टिकट मिलने की संभावना अधिक हो रही है। हालांकि, सिरसा लोकसभा सीट की मौजूदा बीजेपी सांसद सुनीता दुग्गल अशोक तंवर को पार्टी में शामिल करने के फैसले का विरोध कर चुकी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सुनीता दुग्गल ने पार्टी इंचार्ज बिप्लब देब से मिलकर अशोक तंवर को पार्टी में शामिल करने के फैसले का विरोध किया है।

Haryana News

AAP से नाराज चल रहे थे अशोक तंवर

आपको बता दें कि अशोक तंवर ने 5 अक्टूबर 2019 को कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद अशोक तंवर ने अपनी पार्टी भी बनाई थी, लेकिन कुछ खास नहीं कर पाए। वह कुछ समय ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी में भी रहे। 4 अप्रैल 2022 को अशोक तंवर टीएमसी को छोड़कर आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे।

सूत्रों की मानें तो अशोक तंवर उम्मीद कर रहे थे कि आम आदमी पार्टी उन्हें राज्यसभा भेजेगी। लेकिन AAP ने एनडी गुप्ता को उच्च सदन में भेजकर उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। इसके बाद से ही वह AAP नाराज चल रहे थे। पिछले दिनों उनकी मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर से मुलाकात भी हुई थी। इसके बाद से आशंका जताई जा रही थी कि वह जल्द ही AAP का साथ छोड़कर बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। शनिवार को इस पर मुहर भी लग गई।

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने राम मंदिर को लेकर कही बड़ी बात, बताया राष्ट्र निर्माण का वक्त

देश विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post