Friday, 23 February 2024

माफिया अतीक का पाकिस्तान कनेक्शन, फर्जी दस्तावेज से करोड़ों की जमीन पर किया कब्जा

UP News : यूपी के माफिया डॉन अतीक अहमद की हत्या को काफी समय बीत चुका हैं, लेकिन अभी भी…

माफिया अतीक का पाकिस्तान कनेक्शन, फर्जी दस्तावेज से करोड़ों की जमीन पर किया कब्जा

UP News : यूपी के माफिया डॉन अतीक अहमद की हत्या को काफी समय बीत चुका हैं, लेकिन अभी भी उसकी संपत्तियों को लेकर जो जांच की जा रही है। माफिया सरगना अतीक को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। पता चला है कि उसने प्रयागराज के म्योर रोड पर करोड़ों की जमीन हड़प ली थी और इसके लिए पाकिस्तान के कराची से एक शख्स को बुलाकर साजिश रची थी।

UP News in hindi

माफिया डॉन अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद उनके पाकिस्तान कनेक्शन को लेकर कई एजेंसियों ने लंबी पड़ताल की थी। अब अतीक अहमद का कराची कनेक्शन सामने आया है। प्रयागराज कैंट में म्योर रोड स्थित करोड़ों की जमीन हड़पने के लिए माफिया अतीक ने बड़ी जालसाजी की थी। इस जमीन को कूटरचित दस्तावेजों के जरिए कब्जाने के लिए अतीक ने पाकिस्तान के कराची शहर से एक शख्स को बुलाया था और जाली दस्तावेज तैयार कर असलहे और रसूख के दम पर जमीन पर कब्जा किया था। अतीक ने यह सब अपने ममेरे साढू मोहम्मद उमर के साथ मिलकर किया था। जांच के बाद अब करोड़ों की इस जमीन को कब्जाने के मामले में कैंट थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

कराची शख्स बुलाकर हड़पी जमीन

जांच के दौरान सामने आया है कि करोड़ों रुपये के जमीन को हड़पने के लिए दोनों भाईयों ने कराची से सुहैल सिद्दीकी को बुलाकर उसे सामने खड़ा कर दिया और जाली दस्तावेज बनाकर उस जमीन को हथिया लिया। बताया जा रहा है कि जिस जमीन को अवैध तरीके से अतीक अहमद ने हड़पा था, वो इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अरबी के प्रोफेसर की पुश्तैनी जमीन थी।

अरबी प्रोफेसर की थी करोड़ों की जमीन

प्रयागराज के कैंट थाने में दर्ज केस के मुताबिक इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अरबी के प्रोफेसर की ये करोड़ों रुपये की जमीन म्योर रोड पर थी, जिस पर अतीक की बुरी नजर थी। बताया जा रहा है कि उन्होंने ये जमीन वसीयत बनवाकर अपने भाई लाल शुक्ल को दे दी थी और उसके बाद पाकिस्तान चले गए थे और कराची शहर में बस गए।

पीड़ित परिवार को घसीटकर किया घर से बहार

साल 1996 में माफिया अतीक अहमद को इस जमीन के बारे में जानकारी हुई। अतीक ने बड़ी साजिश रची। तय किया कि पाकिस्तान से आदमी बुलाकर सामने खड़ा किया जाए। माफिया ने पाकिस्तान निवासी सुहैल सिद्दीकी नामक व्यक्ति का फर्जी दस्तावेज तैयार कर सुहैल सिद्दीकी और सईदद्दीन निवासी बेली रोड के नाम पर तैयार कराया। इसके बाद माफिया की शह पर उक्त गिरोह का मोहम्मद उमर असलहा लेकर पीड़ित के मकान में घुसा और सामान को नष्ट कर दिया। घर में रह रहे लोगों को घसीट कर बाहर कर दिया।

UP News – मामले को लेकर जांच जारी

पीड़ित परिवार के लोग बार-बार दबंगों से मकान खाली कराने की गुहार लगा रहे हैं। पीड़ित से एक करोड़ की रंगदारी मांगी जा रही है। भाईलाल के पुत्र राजेंद्र कुमार उर्फ राज शुक्ला ने कैंट थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। जांच के बाद कैंट थाने में सुहैल सिद्दीकी, सईद उद्दीन सिद्दीकी और मोहम्मद उमर के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले में अभी जांच जारी है।

राजस्थान में सत्ता परिवर्तन के बीच राजपूत समाज के बड़े नेता की हत्या, समाज में आक्रोश

उत्तर प्रदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post