Sunday, 16 June 2024

मौलाना कलीम : बचाव में आए अंजुमन हिमाएते और आजाद समाज पार्टी, निकाला जुलूस

saharanpur news : मौलाना कलीम maulana kaleem की रिहाई को लेकर आयोजित अमन यात्रा को सम्बोधित करते हुए मुफ़्ती अताउर्रहमान…

मौलाना कलीम : बचाव में आए अंजुमन हिमाएते और आजाद समाज पार्टी, निकाला जुलूस

saharanpur news : मौलाना कलीम maulana kaleem की रिहाई को लेकर आयोजित अमन यात्रा को सम्बोधित करते हुए मुफ़्ती अताउर्रहमान ने कहा कि प्रदेश सरकार प्रदेश व देश का माहौल खराब करने के मकसद से न केवल मुस्लिम रहनुमाओं व उलेमाओं को झूठे मुकदमों में फंसाकर अपनी संकुचित व मुस्लिम मुखालिफ मानसिकता को साबित कर रही है बल्कि अपनी नाकामी को छिपाने के लिए मुस्लिमों को मोहरा भी बना रही है जो अल्पसंख्यक समाज के साथ ही देश के लोकतांत्रिक देश के मूल्यों के भी खिलाफ है। बाद में राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन एसओ को सौंपा।

आज अंजुमन हिमाएते इस्लाम व आज़ाद समाज पार्टी के संयुक्त तत्वावधान में जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया गया। इस दौरान मौलाना कलीम की रिहाई के लिए किए गए अमन एहतिजाज में बोलते हुए अंजुमन के सदर मुफ़्ती अताउर्रहमान ने कहा कि प्रदेश सरकार इक़्तेदार में आने के समय से ही मुस्लिम मुखालिफ कामों में लगी हुई है जिसका जीत जागता सबूत मौलाना कलीम की गिरफ्तारी है जो पूरी तरह से बेकसूर हैं लेकिन एक सोची समझी व देश के साथ ही प्रदेश में मुस्लिम नफरत को बढ़ावा देने की भापजा की साज़िश है। उन्होंने कहा कि मौलाना पर जो आरोप लगाए गए हैं, वें सब झूठे व मनघड़ंत हैं जिनका सच्चाई से दूर दूर तक कोई वास्ता नहीं है।
सचिव मौलाना खालिद नदवी व मौलाना सर्वर कासमी ने कहा कि भाजपा के दौरे इक़तिदार में जिस तरह से मुस्लिम उलेमाओं को निशाना बनाया जा रहा है वह नाकाबिले बर्दाश्त है जिसका हम कानून के दायरे में रहकर विरोध करना जारी रखेंगे। बाद में राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन थानाध्यक्ष फतेहपुर नागर को सौंपा जिसमें मौलाना की जल्द रिहाई। उन पर दर्ज मुकदमों की समाप्ति के अलावा इस मामले में शामिल रहे अधिकारियों की सर्वोच्च न्यायालय के जजों से जांच कराकर कार्येवाही की मांग की गई। आसपा के छुटमलपुर नगराध्यक्ष दानिश गौड़, मौलाना तफ़ज़्ज़ुल, बाबू अरशद, हाजी ज़ुल्फान ने भी विचार रखे।

Related Post