Thursday, 20 June 2024

saharanpur : मेडिकल स्टोर संचालकों को लगाने होंगे सीसी टीवी कैमरे, लेकिन क्यों ? जानिए वजह

सहारनपुर : सहारनपुर में अवैध रूप से करीब 1000 से ज्यादा मेडिकल स्टोर संचालित है। जो नशे की दवाईयों का…

saharanpur : मेडिकल स्टोर संचालकों को लगाने होंगे सीसी टीवी कैमरे, लेकिन क्यों ? जानिए वजह

सहारनपुर : सहारनपुर में अवैध रूप से करीब 1000 से ज्यादा मेडिकल स्टोर संचालित है। जो नशे की दवाईयों का भी कारोबार करते हैं। औषधि प्रशासन द्वारा लगातार नशीली दवाईयों पर अंकुश लगाने के लिए अभियान चलाया जाता है। लेकिन फिर भी नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। ऐसे में डीएम अखिलेश सिंह ने जिले के मेडिकल स्टारों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के आदेश दिए है। जिनका कभी भी निरीक्षण किया जा सकता है।

जिला औषधि प्रशासन बिना लाईसेंस के चल रहे मेडिकल स्टोर और नशे की दवाईयों पर अंकुश लगाने के लिए अभियान छेड़ा हुआ है। लेकिन फिर भी नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में भारी मात्र में अवैध रूप से मेडिकल स्टोर खुले हुए है। लेकिन थोड़ी बहुत कार्रवाई कर इतिश्री कर दी जाती है। ऐसे में डीएम अखिलेश सिंह ने नशे की बिक्री को गंभीरता से लेते हुए जिले के सभी मेडिकल स्टोरों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के प्रस्ताव मोहर लगा दी है।

ड्रग इंस्पेक्टर संदीप चौधरी ने जिले के मेडिकल स्टोरों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए एक प्रस्ताव जिलाधिकारी को भेजा गया था। डीएम ने जिले के सभी मेडिकल स्टोरों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के निर्देश दिए हैं। औषधि निरीक्षक संदीप चौधरी ने बताया कि औषधीयों की बिक्री नियम -65/3 एवं सौंदर्य प्रसाधन अधिनियम 1940 के अंतर्गत मेडिकल स्टोर, फार्मेसी स्वामियों को एक माह के भीतर दुकान के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाने होंगे।

डीएम अखिलेश सिंह ने बताया कि मेडिकल स्टोर और फार्मेसी स्वामियों ने यदि एक माह के अंदर मेडिकल स्टोरों के अंदर व बाहर सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए तो मेडिकल स्टोर व फार्मेसी स्वामियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। औषधि निरीक्षक, बाल कल्याण अधिकारी और पुलिस द्वारा सीसीटीवी कैमरे की फुटेज का निरीक्षण किया जा सकता है। औषधि निरीक्षक संदीप चौधरी ने कहा कि मेडिकल स्टोरों पर सीसीटीवी कैमरे लगने के बाद नशे की दवाइयों पर अंकुश लगाना बहुत आसान हो जाएगा।

Related Post