Saturday, 18 May 2024

saharanpur news : कैसे हो रोगियों को उपचार, जिला अस्पताल में नहीं हैं जरुरी दवाएं

सहारनपुर। सहारनपुर का जिला अस्पताल इन दिनों जरुरी दवाओं की कमी से जूझ रहा है, जिस कारण सरकारी अस्पताल में…

saharanpur news : कैसे हो रोगियों को उपचार, जिला अस्पताल में नहीं हैं जरुरी दवाएं

सहारनपुर। सहारनपुर का जिला अस्पताल इन दिनों जरुरी दवाओं की कमी से जूझ रहा है, जिस कारण सरकारी अस्पताल में आने वाले रोगियों को आवश्यक दवाईयां उपलब्ध नहीं कराई जा रही है। यही नहीं संक्रामक काल में डेंगू की किट भी मौजूद नहीं हैं, जिसकी वजह से सरकारी अस्पताल में डेंगू की जांच भी प्रभावित हो रही है।

मण्डलायुक्त लोकेश एम0 ने जिला चिकित्सालय में समाप्त हुई 37 दवाओं एवं जिला महिला चिकित्सालय में समाप्त हुई 39 दवाओं को तत्काल खरीदे जाने एवं डेगू किट को पर्याप्त मात्रा में जैम पोर्टल से खरीदे जाने के लिए जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए। उन्होने यूपीएमएसीएल से प्राप्त होने वाली दवाईयों के लिए सम्बन्धित अधिकारियों से दवा उपलब्ध कराये जाने के संबंध में दूरभाष पर वार्ता की। यूपीएमएसीएल के अधिकारियों द्वारा जल्द ही दवाओं को उपलब्ध कराये जाने का आश्वासन दिया गया है।
मंडलायुक्त लोकेश एम ने आज एसबीडी जिला चिकित्सालय तथा जिला महिला चिकित्सालय में समाप्त हो चुकी औषधियों के संबंध में अस्पतालों का निरीक्षण के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होने जिला चिकित्सालय के सब-स्टोर को देखा व दवाओं की कमी के संबंध में तथा डेंगू किट के संबंध में प्रमख अधीक्षक से जानकारी चाही। उनके द्वारा बताया गया कि जिला अस्पताल में डेंगू किट पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है, जिला चिकित्सालय हेतु शासन द्वारा 172 दवाओं का टेण्डर किया गया है, जो जल्द ही शासन द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी। 37 ऐसी दवायें है, जो समाप्त हो चुकी है, जिनकी मांग हेतु सूची तैयार कर जिलाधिकारी, एवं मुख्य चिकित्साधिकारी को उपलब्ध करा दी गई है।
मण्डलायुक्त ने जिला महिला चिकित्सालय के दवा स्टोर को देखा तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका, महिला चिकित्सालय एवं मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा बताया गया कि अस्पताल में 39 दवाये समाप्त हुई है, जिनकी सूची तैयार कर जिलाधिकारी को उपलब्ध करा दी गयी है।
निरीक्षण के समय मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. संजीव मांगलिक, प्रमुख अधीक्षक, एसबीडी जिला चिकित्सालय, मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका, जिला महिला चिकित्सालय एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Related Post