Sunday, 25 February 2024

UP News : किडनी बदलवाने के नाम पर धर्म परिवर्तन को उकसाया, कानपुर में पुलिस ने पकड़ा धर्मांतरण गैंग, 2 गिरफ्तार

UP News : कानपुर। कानपुर पुलिस धर्मांतरण करवाने वालों पर लगातार शिकंजा कस रही है। हाल ही में चकेरी पुलिस…

UP News : किडनी बदलवाने के नाम पर धर्म परिवर्तन को उकसाया, कानपुर में पुलिस ने पकड़ा धर्मांतरण गैंग, 2 गिरफ्तार

UP News : कानपुर। कानपुर पुलिस धर्मांतरण करवाने वालों पर लगातार शिकंजा कस रही है। हाल ही में चकेरी पुलिस ने एक घर में छापा मारकर दो लोगों को धर्मांतरण सामग्री के साथ दबोचा था, अब रावतपुर थारू बस्ती में धर्मांतरण के मामले में रावतपुर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। यहां एक युवक की किडनी बदलवाने और बीमार लोगों का इलाज व बेहतर जिंदगी व रुपए का झांसा देकर धर्मांतरण कराने का प्रयास किया गया है।

UP News : मामले में पुलिस ने दर्ज की FIR

कानपुर के रावतपुर थारू बस्ती में धर्मांतरण के मामले में रावतपुर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। यहां बस्ती के एक युवक की किडनी बदलवाने और बीमार लोगों का इलाज व बेहतर जिंदगी व रुपए का झांसा देकर धर्मांतरण कराने का प्रयास किया जा रहा था। मामले का पुलिस कमिश्नर ने संज्ञान लेकर एफआईआर दर्ज कराई है। इसके साथ ही जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया है।

बेहतर जिंदगी के नाम पर धर्मांतरण की कोशिश

डीसीपी वेस्ट विजय ढुल ने बताया कि रावतपुर की थारू बस्ती में नीरज नाम के युवक की ज्यादा शराब पीने से किडनी और लीवर खराब हो गया था। एक व्यक्ति खुद को पंजाब से आने की बात कहकर बस्ती में पहुंचा। वहां के बीमार लोगों की जानकारी जुटाई और नीजर की किडनी व लीवर का इलाज कराने की बात कही थी।
इसके साथ ही यह भी दावा किया था कि जरूरत पड़ी तो वह किडनी भी बदलवा देगा। यह भी कहा कि अगर आप लोग क्रिश्चयन धर्म मानते तो यह दिन नहीं देखना पड़ता। अगर आप लोग ईसा मसीह को मानें और पूजा करें तो अपके सभी दुख दिन दूर हो जाएंगे। इसके साथ ही बस्ती में लगातार घूम कर लोगों को फोटो, वीडियो और प्रवचन देकर ईसाई बनने के लिए कहा रहा था। नौकरी, घर, शादी समेत अन्य लालच देकर धर्म परिवर्तन कराना चाहते थे।

मामले का संज्ञान लेकर दरोगा विकास कुमार गुप्ता की तहरीर पर धर्मांतरण कराने की कोशिश करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम-2021 की धारा-3 व 5 (1) की धारा में एफआईआर दर्ज की है। उनकी पहचान करने का प्रयास किया जा रहा है।

विशेष जांच टीम गठित

डीसीपी विजय ढुल ने बताया कि धर्मांतरण के गिरोह के सिंडीकेट का खुलासा करने के लिए एक विशेष टीम गठित की गई है। जल्द ही धर्मांतरण कराने की कोशिश करने वालों की पहचान करने के साथ ही अरेस्ट करके जेल भेजा जाएगा। बस्ती के लोगों का बयान दर्ज करने के साथ ही जांच शुरू कर दी गई है।

UP News – आरोपियों को रिमांड पर लेकर दोबारा पूछताछ होगी

जॉइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि मामले में जांच के दौरान सामने आया है कि कानपुर से प्रदेश के कई जिलों में धर्मांतरण का नेटवर्क चल रहा है। इतना ही नहीं कई राज्यों में चल रहे धर्मांतरण का सिंडिकेट भी सीधे तौर पर कानपुर से जुड़ा है। कई राज्यों और विदेश से धर्मांतरण कराने वाले लोगों को फंडिंग की जा रही है। पकड़े गए आरोपियों को जल्द ही रिमांड पर लेकर पूछताछ और बैंक डिटेल समेत अन्य जानकारी जुटाई जाएगी।

अफसरों का दावा है कि जल्द कानपुर से यूपी के कई जिलों और राज्यों तक फैले धर्मांतरण के सिंडीकेट का खुलासा करेगी वहीं, दूसरी तरफ आईबी, एसटीएफ समेत अन्य जांच एजेंसियां भी पूरे मामले की जांच अपने स्तर से कर रही हैं।

हर जरूरत पूरा करने का करते हैं दावा

मिशनरी से जुड़े लोग गरीब परिवारों से कहते हैं कि जिस व्यक्ति को दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं होती, समाज में उपेक्षित होता है, वो लोग हमारी मिशनरी से जुड़ते हैं। हम उनके लिए कपड़े, रहने के लिए घर और दो वक्त के खाने का इंतजाम, बच्चों की पढ़ाई का इंतजाम करते हैं। इससे उसकी जिंदगी बदल जाएगी। लोगों को इस तरह से मोटिवेट किया जाता है कि वह सब कुछ भूलकर क्रिश्चियन धर्म अपना लेता है। इसके साथ ही वह दूसरे लोगों को क्रिश्चियन बनने के लिए मोटिवेट करने लगता है।

गरीब और दलितों को किया टारगेट

पुलिस की जांच में सामने आया कि धर्मांतरण करने वाला गिरोह सिर्फ बस्तियों और मध्यम वर्ग से नीचे तबके के लोगों को टारगेट करता है। उनकी बस्तियों में जाकर सभाएं करना, उन्हें चर्च बुलाकर मोटिवेट करना और अलग-अलग तरह से लालच देकर क्रिश्चियन बना देते हैं। इसके बाद उनके मोहल्ले में एक किराए का मकान लेकर या खरीदकर चर्च बना देते हैं। जहां से सारी गतिविधियां चलने लगती हैं। UP News

Greater Noida : नोएडा की वायरल ऑडियो ने उजागर किया पुलिस का दोहरा चरित्र, उठे सवाल

उत्तर प्रदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें।

Related Post