Saturday, 15 June 2024

UP के इस मंदिर ने तोड़ा रिकार्ड, बाबा के दर्शन को पहुंचे 12.92 करोड़ श्रद्धालु

UP News : देश के मंदिरों के दर्शन करने में रिकार्ड बनाने वाले दक्षिण भारत के कई मंदिर ऐसे हैं,…

UP के इस मंदिर ने तोड़ा रिकार्ड, बाबा के दर्शन को पहुंचे 12.92 करोड़ श्रद्धालु

UP News : देश के मंदिरों के दर्शन करने में रिकार्ड बनाने वाले दक्षिण भारत के कई मंदिर ऐसे हैं, जहां रिकार्डतोड़ श्रद्धालु हर साल जाते हैं। इसके अलावा उत्तर भारत के श्री वैष्णो देवी मंदिर में भी रिकार्ड श्रद्धालु हर साल जाते हैं, लेकिन इन सबके बीच बड़ी खबर यह है कि यूपी का एक ऐसा मंदिर भी है जहां पर इस साल रिकार्ड श्रद्धालु पहुंचे हैं। यूपी के इस मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 12.92 करोड़ से ऊपर पहुंच गई है। श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब श्रद्धालुओं की सुविधाओं में भी बढ़ोत्तरी की जा रही है।

UP News in hindi

दरअसल, हम आपको बताते हैं कि यूपी का यह मंदिर कहां पर स्थापित है। यह मंदिर यूपी के वाराणसी में है। इस मंदिर को बाबा विश्वनाथ का सच्चा दरबार कहकर पुकारा जाता है। बाबा विश्वनाथ के मंदिर में इस साल रिकार्डतोड़ श्रद्धालु पहुंचे हैं। बाबा विश्वनाथ के धाम पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 12.92 करोड़ से भी ऊपर पहुंच गई है।

आपको बता दें कि बाबा विश्वनाथ भगवान भोलेनाथ ही हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 13 दिसंबर 2021 को काशी के बाबा विश्वनाथ धाम कॉरिडोर का लोकार्पण किया था। जिसके बाद से बाबा विश्वनाथ धाम आने वाले महादेव के भक्तों की संख्या में कई गुणा वृद्धि हुई है। 13 दिसंबर 2023 को बाबा विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के दो वर्ष पूरे हो जाएंगे। बाबा विश्वनाथ के धाम में दो वर्षों में भक्तों के आने का नया रिकॉर्ड बना है। यहां प्रतिदिन बाबा विश्वनाथ के दरबार में लाखों भक्त दर्शन करने आ रहे हैं। विशेष अवसरों और पवित्र सावन के महीने में ये संख्या कई गुना बढ़ जाती है। श्री काशी बाबा विश्वनाथ धाम ने दो वर्षों में यहां आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या जारी की है।

बाबा विश्वनाथ धाम ट्रस्ट के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा बताते हैं कि श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण के बाद से 6 दिसंबर 2023 तक 12 करोड़ 92 लाख 24 हज़ार से अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा विश्वनाथ धाम के दर्शन लिए हैं। दिसंबर 2023 अंत तक यह संख्या 13 करोड़ पार होने की संभावना जताई जा रह है।

पहले होती थी श्रद्धालुओं को दिक्कत

जैसा कि आप जानते हैं कि पहले विश्वनाथ धाम की तंग गलियों की वजह से श्रद्धालुओं को बाबा के दरबार तक पहुंचने में दिक्कत होती थी। एक समय में बहुत लोग ही दर्शन कर पाते थे और लोगों को बाहर खड़े होकर काफी लम्बे समय तक इंतज़ार करना पड़ता था, लेकिन काशी कॉरिडोर बनने के बाद अब इसका विस्तार हुआ है। यहां एक समय पर बहुत बड़ी संख्या में लोग खड़े हो सकते हैं। मंदिर चौक बन जाने की वजह से सुगमता से दर्शन के बाद वहाँ लोग काफ़ी समय रुक भी सकते हैं।

काशी विश्वनाथ ट्रस्ट के सीईओ सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि मंदिर में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कई प्रबंध लिए गए हैं। गर्मी, ठंड और बरसात में तेज धूप से बचाने के लिए जर्मन हैंगर, गर्म फ़र्श पर पैर न जलें इसके लिए मैट, कूलर, शुद्ध पेय जल की व्यवस्था की गई है। खास बात ये है कि पवित्र श्रावण मास में महादेव के भक्तों की संख्या को देखते हुए विशेष प्रबंध भी किए गए। दिव्यांगजनों के लिए निःशुल्क व्हील चेयर, ज़रूरत पड़ने पर चिकित्सा की व्यवस्था ने बाबा के भक्तों को सुगमता से दर्शन के लिए अवसर दिया है।

UP News – सावन के महीने में पहुंचे श्रद्धालुओं की संख्या

आप जानते ही है कि वर्ष 2023 में सावन के दो महीने पड़े थे। इनमें जुलाई 2023 में 72,02891 और अगस्त महीने में 95,62,206 श्रद्धालुओं ने बाबा विश्वनाथ के दर्शन किए। दो महीने में यह संख्या लगभग एक करोड़ 67 लाख 65 हजार 97 रही। जबकि 2022 के सावन के महीने में बाबा विश्वनाथ के दर्शन करने वालों की संख्या 76, 81561 थी। UP News

बड़ी खबर : शादी से लौट रही कार और डंपर में भिड़त, 8 लोगों की जिंदा जलकर मौत

देश विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post