Friday, 19 July 2024

10 लाख भारतीय कौवों की हत्या करेगी केन्या सरकार, छेड़ दी जंग

Kenya : पूर्वी अफ्रीका के देश केन्या की सरकार ने एक अजीब फैसला किया है। इस फैसले के तहत केन्या…

10 लाख भारतीय कौवों की हत्या करेगी केन्या सरकार, छेड़ दी जंग

Kenya : पूर्वी अफ्रीका के देश केन्या की सरकार ने एक अजीब फैसला किया है। इस फैसले के तहत केन्या की सरकार 10 लाख भारतीय कौवों की हत्या करेगी। केन्या की सरकार ने बाकायदा भारत के कौवों के खिलाफ जंग छेड़ दी है। केन्या सरकार के इस फैसले से दुनिया भर के प्राणी प्रेमी नागरिकों में चिंता की लहर फैल गई है। केन्या सरकार के इस फैसले का केन्या के नागरिक भी समर्थन कर रहे हैं।

क्या है केन्या सरकार का फैसला ?

केन्या में लगातार बढ़ती कौवों की संख्या से परेशान होकर केन्या की सरकार ने साल 2024 के आखिरी तक केन्या के सभी समुद्रीय तटीय इलाकों में से 10 लाख कौवों को मारने का आदेश दिया है। केन्या सरकार के मुताबिक ये कौवे भारतीय मूल के हैं। जानकारी के मुताबिक साल 1940 में बड़ी संख्या में भारतीय कौवें अफ्रीका में चले गए थे। तब से लगातार इन कौवों की संख्या बढ़ती जा रही है। आरोप है कि ये कौवे इतने आक्रामक हो गए हैं कि केन्या में पक्षियों और लोगों को सताने लगे हैं।

Kenya

इनकी वजह से केन्या की टूरिस्ट और होटल इंडस्ट्री को गहरा नुकसान पहुंच रहा है। केन्या सरकार के अधिकारियों का कहना है कि भारतीय इन कौवों की वजह से केन्या में मौजूद दूसरे पक्षियों के लिए परेशानियां बढ़ रही है। ये कौवे दूसरे पक्षियों को घौसलों को बिखेर देते हैं। केन्या सरकार ने इन कौवों के खिलाफ अब जंग छेड़ दी है। इसी को लेकर केन्या वाइल्डलाइफ सर्विस (KWS ) का मानना है कि ये ‘इंडियन हाउस क्रो’ विदेशी पक्षी हैं। जो सालों से यहां रहने वाले लोगों के लिए परेशानियां बढ़ा रहे हैं।

क्या है केन्या की परेशानी?

केन्या में पक्षी विशेषज्ञ कोलिन जैक्सन के अनुसार इन भारतीय कौवों के कारण केन्या में बड़ी संख्या में दूसरे पक्षियों की संख्या कम हो रही है। ये कौवे समुद्री तटीय इलाकों पर दूसरे छोटे पक्षियों को परेशान कर रहे हैं, वे दूसरे पक्षियों के घोंसले को उजाड़ रहे हैं। इसी के साथ ही दूसरे पक्षियों के अंडे और चूजों को खा रहे हैं. जाते हैं। दूसरी तरफ पक्षी कम होने के कारण वातावरण का माहौल बिगड़ रहा है। लगातार कीड़े-मकौड़ों की संख्या बढ़ रही है, जिससे की कई तरह की परेशानियां खड़ी हो रही हैं।

केन्या की सरकार का कहना है कि कौवों की बढ़ती संख्या लगातार हमारे टूरिस्ट और होटल इंडस्ट्री के लिए भी परेशानी बन रही है। कौवे समुद्र किनारे पर स्थित होटलों के टूरिस्टों को परेशान कर रहे हैं। इसके अलावा ये खाना खा रहे सैलानियों को बहुत परेशान करते हैं। जिनसे केन्या का टूरिस्म कम होता जा रहा है। जिससे कि केन्या की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है। इसी कारण 10 लाख कौवों को मारने का आदेश दिया गया है। Kenya

जबरा संदेश दे रहा है केन्या का एक वायरल वीडियो

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post