Friday, 19 July 2024

ऐसा क्या है कुवैत में जो भारतीयों को करता है आकर्षित

Kuwait : कुवैत एक खाड़ी देश है। इन दिनों दुनिया भर में कुवैत की चर्चा खूब हो रही है। दुनिया…

ऐसा क्या है कुवैत में जो भारतीयों को करता है आकर्षित

Kuwait : कुवैत एक खाड़ी देश है। इन दिनों दुनिया भर में कुवैत की चर्चा खूब हो रही है। दुनिया में कुवैत की चर्चा का कारण एक अग्निकांड बना है। कुवैत में हुए भीषण अग्निकांड में भारत के 50 नागरिकों की मौत हो गई। ऐसे में सवाल यह उठता है कि कुवैत में आखिर ऐसा क्या आकर्षण है जो बड़ी संख्या में नौकरी करने वाले कुवैत में आते हैं। यहां विस्तार से बताया जा रहा है कुवैत के आकर्षण का बड़ा कारण।

कुवैत के आकर्षण का कारण?

आपको बता दें कि कुवैत में नौकरी करना बेहद फायदेमंद माना जाता है। भारत में जिन युवाओं को हजारों रूपए की भी नौकरी नहीं मिलती उन युवाओं को कुवैत में नौकरी के बदले लाखों रूपए हर महीने मिलते हैं। यही कारण है कि कुवैत भारत के युवाओं समेत एशिया भर के तमाम युवाओं के आकर्षण का केन्द्र बना हुआ है। एक मीडिया रिपोर्ट में कुवैत में आठ प्रकार की अधिक पैसा कमाने वाली नौकरियों का जिक्र किया गया है।

कुवैत में भरपूर पैसा देने वाली नौकरी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कुवैत में सबसे ज्यादा डिमांड बिजनेस एडमिनिस्ट्रेटर की रहती है. यहां कारोबार का विस्तार तेजी से हो रहा है और तमाम विदेशी कंपनियां भी अपना बिजनेस कुवैत में स्थापित कर रही हैं. अच्छी स्किल वालों को यहां हर महीने औसतन 400 कुवैती दिनार की पगार मिल जाती है. यह भारतीय करेंसी में 1,09,055 रुपये होता है। कुवैत में नौकरी खोजने वालों के लिए दूसरी सबसे हॉट जॉब है मॉल मैनेजर की. कुवैत और सऊदी अरब में मॉल कल्चर तेजी से फैल रहा और कुवैत में दुनिया के बेहतरीन शॉपिंग सेंटर भी बनाए जा रहे. ऐसे में मॉल मैनेजर की जॉब काफी निकलती है। उनका काम शॉपिंग सेंटर को चलाना होता है। इस काम के लिए हर महीने 500 कुवैती दिनार मिल जाते हैं, जो भारत के 1,36,319 रुपये के बराबर होते हैं।

Kuwait

आपको जानकर हैरानी होगी कि कुवैत में भले ही अरबी और फारसी बोली जाती है, लेकिन यहां इंग्लिश टीचर की काफी डिमांड है. इसका कारण ये है कि ग्लोबल मार्केट खुलने की वजह से कुवैत में अंग्रेजी की मांग भी बढ़ रही, जिसके लिए टीचर की जरूरत होती है. इंग्लिश पढ़ाने वाले को हर महीने औसतन 300 से 350 कुवैती दिनार (करीब 95,423 रुपये) मिल जाते हैं।

कुवैत में सबसे ज्यादा पेमेंट वाली पगार इंजीनियरिंग सेक्टर में मिलती है. अभी खाड़ी देश में इन्फ्रा पर काफी काम हो रहा है, लिहाजा सिविल और इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की मांग भी काफी ज्यादा बढ़ गई है. इनका काम इन्फ्रा प्रोजेक्ट की डिजानिंग, प्लानिंग और डेवलपमेंट पर निगाह रखना है।  इस काम के लिए कुवैत में हर महीने औसतन 600 से 750 कुवैती दिनार (1.63 लाख से 2.04 लाख रुपये) मिल जाते हैं।
कुवैत में ग्राफिक डिजाइनर की मांग भी काफी रहती है। इसमें एडवरटाइजिंग, वेबसाइट की डिजाइनिंग और तमाम डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ग्राफिक्स डिजाइन करने की प्रोफाइल दी जाती है।

इसके लिए हर महीने 250 से 350 कुवैती दिनार मिल जाते हैं, जो भारत के 95,423 रुपये के बराबर होते हैं।  जैसा कि पहले ही बताया कि कुवैत और अन्य खाड़ी देशों में अब विदेशी कंपनियों का जमावड़ा लग रहा है तो इन कंपनियों को मानव संसाधन (HR) विभाग के लिए भी प्रोफेशनल्स की जरूरत होती है। स्किल वाले व्यक्ति कुवैत में हर महीने करीब 250 से 400 कुवैती दिनार मिल जाते हैं, जो भारतीय करेंसी में 1,09,055 रुपये तक हो सकते हैं। कुवैत में तेल की तमाम फैक्ट्रियां हैं. इसके अलावा मैन्युफैक्चरिंग व अन्य इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट के लिए भी फैक्ट्री सुपरवाइजर की जॉब काफी निकलती है. इस फील्ड में काम करने वाले को हर महीने औसतन 600 कुवैती दिनार (करीब 1,63,582 रुपये) तक मिल जाते हैं। Kuwait

बड़ी खबर : भारत तथा मालदीव के तनाव में श्रीलंका की मौज

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post