Friday, 19 July 2024

बड़ी खबर : भारत तथा मालदीव के तनाव में श्रीलंका की मौज

Sri Lanka :  दो बिल्ली लड़ती हैं तो बंदर के मजे आ जाते हैं। यह कहावत श्रीलंका पर सटीक बैठ…

बड़ी खबर : भारत तथा मालदीव के तनाव में श्रीलंका की मौज

Sri Lanka :  दो बिल्ली लड़ती हैं तो बंदर के मजे आ जाते हैं। यह कहावत श्रीलंका पर सटीक बैठ रही है। भारत तथा मालदीव के बीच तनाव क्या बढ़ा कि श्रीलंका के मजे आ गए। श्रीलंका के मंत्री से लेकर राष्ट्रपति तक यही प्रार्थना कर रहे हैं कि भारत तथा मालदीव का तनाव बढ़ता ही रहे। इस तनाव के कारण श्रीलंका की मौज ही मौज है।

भारत तथा मालदीव के तनाव में श्रीलंका की बल्ले-बल्ले

आपको बता दें कि भारत तथा मालद्वीप के रिश्ते ठीक नहीं चल रहे हैं। खराब हुए इन रिश्तों का फायदा श्रीलंका को खूब हो रहा है। भारत तथा मालदीव के तनाव में चीन का हस्तक्षेप और भारत की सेना को मालदीव से भेजना बड़ा मुद्दा रहा। साल की शुरुआत में जब पीएम नरेंद्र मोदी लक्षद्वीप गए। तब से मालदीव और ज्यादा परेशान है। वैसे तो भारत और मालदीव समुद्री सीमा साझा करने वाले पड़ोसी देश हैं। लेकिन संबंध मैत्रीपूर्ण नहीं हैं। मालदीव में मोहम्मद मुइज्जू के दोबारा राष्ट्रपति बनने के बाद कई मुद्दों पर तनातनी भी चल रही है। इसके चलते भारतीय पर्यटक मालदीव जाने से कतरा रहे हैं। भारत के पर्यटकों की पहली पसंद श्रीलंका बन रहा है।

Sri Lanka

हाल ही में श्रीलंका का बयान आया है। श्रीलंका के पर्यटन मंत्री का मानना है कि भारत और मालदीव के रिश्तों में जो तनाव आया है। उसका फायदा उनके देश श्रीलंका को मिला है। श्रीलंका के मंत्री हरिन फर्नांडो ने कहा कि मालदीव यात्रा के बहिष्कार के बाद इसका फायदा निश्चित श्रीलंका के पर्यटन उद्योग को हो रहा है। फर्नांडो ने भारत और मालदीव के बीच विवाद का हवाला देते हुए कहा कि नई दिल्ली और माले के बीच जो हुआए उसकी वजह से मालदीव में भारतीय पर्यटकों की संख्या में भारी गिरावट आई है।

जिसका फायदा श्रीलंका को मिल रहा है। फर्नांडो का मानना है कि 2030 तक दुनिया के चौथे सबसे बड़े यात्रा पर खर्च करने वाले भारतीय यात्री रहेंगे। यह श्रीलंका के लिए अच्छा संकेत है। उन्होंने कहा भारत सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है और श्रीलंका को भी फायदा हो रहा है। श्रीलंका के पर्यटन मंत्रालय के अनुसार अब मालदीव पहुंचने वाले भारतीय घटे हैं और उनका नंबर चीन, रूस, यूके, इटली और जर्मनी के बाद छठे पायदान पर है। इस साल जनवरी में 34,400 भारतीय घूमने के लिए श्रीलंका आए जो पिछले साल जनवरी में आए भारतीयों 13,759 से दोगुने से भी अधिक हैं। 2024 की पहली तिमाही में भी श्रीलंका आने वाले भारतीयों की संख्या 2023 की इसी अवधि में काफी बढ़ी। Sri Lanka

युवक को वीडियो बनाते देख पगलाया हाथी, किया ये हाल

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post