Tuesday, 21 May 2024

12 साल के छात्रों ने कमाए घर बैठे 2 करोड़ रुपए, जाने क्या है पूरी खबर

कोरोना महामारी के दौरान कई लोगों ने काफी दिक्कतों का सामना किया तो कुछ लोगों का जीवन ही बदल गया।…

12 साल के छात्रों ने कमाए घर बैठे 2 करोड़ रुपए, जाने क्या है पूरी खबर

कोरोना महामारी के दौरान कई लोगों ने काफी दिक्कतों का सामना किया तो कुछ लोगों का जीवन ही बदल गया। बहुत से लोगों की नौकरियां चली गई तो कुछ लोगों के धंधे पूरी तरह खत्म हो गए। बच्चों के स्कूल,कॉलेज,ऑफिस यहां तक कि सारे बाजार और दुकानें भी बंद थी। घरों में लोगों ने अपना सारा समय अपने परिवार जनों के साथ बिताया। स्कूल कॉलेज बंद हुए तो बच्चों की ऑनलाइन क्लास शुरु कर दी गई।

लेकिन वहीं लंदन से खबर आती है कि एक 12 साल के बच्चे ने कुछ ऐसा दिमाग लगाया कि घर पर बैठे-बैठे हजार दो हजार रुपए नहीं बल्कि पूरे 2 करोड पैसे ज्यादा कमाए। हम बात कर रहे हैं उत्तरी लंदन के रहने वाले एक छात्र बेन्यामिन अहमद की। यह एक 12 वर्षीय छात्र है। जिसने अपने खाली समय का उपयोग कर डिजिटल कलाकृतियों को तैयार किया। जिसके बाद उन्हें ऑनलाइन बेच कर दो करोड़ की कमाई भी की।

बता दें कि बेन्यामिन अहमद ने खुद ही इतनी बड़ी संख्या में व्हेल की अनोखी डिजिटल कलाकृतियों को तैयार किया है। जानकारी के अनुसार उसने इन तस्वीरों को एनएफटी प्लेटफार्म पर बेचा जिसके बाद उसने £290,000 (2 करोड़ 13 लाख रुपये) की कमाई की।

बेन्यामिन अहमद जब 5 साल के थे तभी से वह कोडिंग कर रहे हैं। जिसके बाद इस साल की शुरुआत में एनएफटी में दिलचस्पी हुई। बाद में उन्होंने अपना खुद का संग्रह बनाने का फैसला भी लिया। जिसके बाद उसने अलग-अलग व्हेल की कलाकृतियों को तैयार किया।

बेन्यामिन ने एक इंटरव्यू में बोला कि “मैं एक प्रोफेशनल कलाकार नहीं हूं, लेकिन मैंने यूट्यूब पर कुछ वीडियो देखे थे उसके बाद दिमाग लगाया कि व्हेल को पिक्सेल रूप में कैसे आकर्षित किया जा सकता है।”

जानकारी के अनुसार बेन्यामिन ने कहा कि “इसके बेस और कई सारे सहायक उपकरण बनाने में मुझे कुछ हफ्ते लगे लेकिन फिर मैंने उन्हें अपने प्रोजेक्ट में शामिल कर व्हेल की कलाकृतियां बनाना शुरू कर दिया।

जुलाई महीने में ऑनलाइन बिक्री के लिए जाने के बाद बेन्यामिन अपने व्हेल संग्रह को 9 घंटे में बिकते देखा। बता दें कि यह दूसरा एनएफटी संग्रह है जिसे 12 वर्ष के एक लड़के ने बनाया है। जानकारी के लिए बता दें कि एनएफटी एक तरह का आर्ट और डिजिटल वर्ल्ड का मिश्रण माना जाता है। अगर आपकी आर्ट डिजिटल मीडिया में स्थापित हो जाए या फिर लोगों को उसमें कुछ अलग दिखने लगे, तो फिर उसे एनएफटी के रूप में घोषित कर दिया जाता है। जिसके बाद इन्हें क्रिप्टो करेंसी नेटवर्क के माध्यम से बेचा और खरीदा जा सकता है।

Related Post