Wednesday, 17 April 2024

नायडू हुए सख्त,राज्यसभा में विपक्ष के हाथापाई के दावे की जांच करेगी विशेष समिति

राज्यसभा में विपक्ष की महिला सांसदों के साथ सुरक्षा अधिकारियों द्वारा की गई कथित दुर्व्यवहार के मामलें में सभापति वेंकैया…

राज्यसभा में विपक्ष की महिला सांसदों के साथ सुरक्षा अधिकारियों द्वारा की गई कथित दुर्व्यवहार के मामलें में सभापति वेंकैया नायडू सख्त हो गए है। हाथापाई व मारपीट के इस दावे की जांच अब विशेष समिति करेगी। माना जा रहा है कि पूरे मामले में दोषियों पर कठोर कार्रवाई की जा सकती है।

सूत्रों के अनुसार, नायडू एक-दो दिन के भीतर इस मामले में की जाने वाली कार्रवाई पर फैसला कर सकते हैं। वह पिछले उदाहरणों व कार्यो का अध्ययन कर रहे हैं। इसे जल्द ही या तो विशेषाधिकार समिति को सौंप दिया जाएगा अथवा कोई नई समिति भी गठित की जा सकती है। फिलहार राज्यसभा के पूर्व महासचिव व कानूनी जानकारों के साथ राय ली जा रही है। गुरुवार को इस मामले में दो सुरक्षा अधिकारियों ने सदन के वेल में विरोध प्रदर्शन के दौरान विपक्षी सदस्यों के व्यवहार के बारे में एक लिखित शिकायत सौंपी है। जिसमें कहा गया है कि सदन में तैनात सुरक्षा अधिकारियों ने हंगामें के दौरान किसी भी सदस्य के साथ कोई दुर्व्यवहार नहीं किया,बल्कि कई विपक्षी सदस्यों ने उनके साथ धक्कामुक्की व मारपीट की थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि जैसे ही सदन में सामान्य बीमा व्यवसाय(राष्ट्रीयकरण) संशोधन विधेयक 2021 को विचार के लिए रखा गया,विपक्षी सदस्य वेल में आ गए और सदन के पटल पर चढ़ने की कोशिश करने लगे। लेकिन सुरक्षा सेवा के अधिकारियों ने संभावित नुकसान से बचाव के लिए सदन के पटल को चारो ओर से घेर लिया था। इस बीच कांग्रेस व शिवसेना के सदस्यों ने सुरक्षा अधिकारियों के साथ धक्कामुक्की की।

Related Post