Saturday, 15 June 2024

.आरएसएस नेता राममाधव ने भी तालिबान के मुद्दे पर केंद्र को चेताया

तालिबान द्वारा अफगानिस्तान की सत्ता कब्जाए जाने के बाद केंद्र की मोदी सरकार को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के बाद…

तालिबान द्वारा अफगानिस्तान की सत्ता कब्जाए जाने के बाद केंद्र की मोदी सरकार को भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी के बाद अब राष्ट्रीय स्वयं सेवकसंघ ने भी खबरदार किया है। संघ की ओर से चेतावनी दी गई है कि अगर भारत ने तालिबान के खिलाफ कड़े रुख नहीं अपनाए तो इसके चलते भारत को गंभीर चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव व संघ नेता राममाधव ने कहा है कि तालिबान के पास आईएसआई द्वारा पाकिस्तान में प्रशिक्षित 30 हजार से ज्यादा भाड़े के लोग हैं। भारत की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहाकि काबुल की सत्ता में मौजूद तालिबान का नेतृत्व अब उन्हें अपने संरक्षक पाक की मदद से ‘कहीं और’ तैनात करेगा। भारत को अब गंभीर चुनौतियों के लिए तैयार रहना होगा। तालिबान भारत के लिए खतरा है। इससे पहले सुब्रमण्यम स्वामी ने सरकार को सतर्क रहने की सलाह दी थी। स्वामी ने कहा था कि  अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता में आ जाने के बाद अंतर्राष्ट्रीय मोर्चे पर भारत के लिए एक नया खतरा पैदा हो गया है। राममाधव से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी इस मुद्दे पर चिंता जताते हुए देश् की सीमाओं पर अतिरिक्त सतर्कता बरतने पर जोर देते हुए कहा था कि अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा होना भारत के लिए शुभ संकेत नहीं है।

Related Post