Thursday, 18 April 2024

काबुल में पानी और खाना की चौकानें वाली कीमत

अफगानिस्तान में तालिबान का शासन नागरिकों को भूख-प्यास से मार रहा है। काबुल एयरपोर्ट से भयानक तस्वीर सामने आई है…

काबुल में पानी और खाना की चौकानें वाली कीमत

अफगानिस्तान में तालिबान का शासन नागरिकों को भूख-प्यास से मार रहा है। काबुल एयरपोर्ट से भयानक तस्वीर सामने आई है जिसमें शरणार्थी भूख-प्यास से तड़पते नजर आ रहे है। आतंक से बचने के लिए लोग पलायन करने पर मजबूर हो गए है। सूत्रों के मुताबिक पानी की एक बोतल की कीमत 40 अमेरिकी डोलर यानि 3 हजार रुपए है, जबकि एक प्लेट चावल की कीमत 100 डोलर यानी अनुमानित राशि 7500 रुपए है। काबुल पर तालिबानी कब्जे के बाद लोगों में खौफ भर गया है। अफगानी मुल्क छोड़कर दूसरे देशों की शरण ले रहे है। अफगानिस्तान में नागरिक कोविड प्रोटोकॉल का नहीं बल्कि जीवन बचाने का प्रयास कर रहे है। विमान दोगुना यात्रियों को लेकर उड़ान भरते दिखाई दे रहे है। तालिबानी शासन में महंगाई ने लोगों की जिंदगी तबाह कर दी है। बचाव की खातिर खाना-पीना मजबूरी में लेना पड़ रहा है। काबुल से नागरिकों को सुरक्षित निकालने में कई देश एयरलिफ्ट मिशन चला रहे है। अब तक हजारों लोगों को निकाल लिया गया है लेकिन एयरपोर्ट पर भीड़ उमड़ती जा रही है। काबुल में चारो तरफ मायूसी छाई है। दरहसल व्यक्ति भूख-प्यास से जूझकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे है। वहां की हालत ऐसी हो गई है, कब कौन जमींन पर गिर पड़े किसी को पता नहीं क्योंकि खाना-पीना और गर्मी से लोगों की सांसें थम रही है। खाने-पीने की कीमतों को 10 गुने से अधिक बढ़ाया गया है। जिसके कारण लोग बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ते है, कई लोग जीवन से हार मान लेते है। तालिबान दरियादिली दिखाने की वजह मारपीट शुरू कर देता है। इस मुश्किल वक्त में नाटों देशों के सैनिक मसीहा बनकर अफगानियों की मदद कर रहे है। अमेरिकी सैनिक बच्चों को चिप्स व खाना बांटते नजर आ रहे है। तालिबानियों का आतंकी राज जनता के जीवन पर जुल्म ढा रहा है। जानकारी के मुताबिक तालिबान ने काबुल पर घेराबंदी शुरू कर दी है। मुख्य मार्ग औऱ एयरपोर्ट के मेन गेट पर नाकाबंदी शुरू कर दी गई है।

Related Post