Saturday, 25 May 2024

Kiren Rijiju : मंत्रालय छिनने के बाद रिजिजू ने चलाये व्यंग्य बाण, सीजेआई को किया धन्यवाद

Kiren Rijiju केन्द्र की मोदी सरकार में कानून मंत्रालय का कार्यभार देख रहे किरेन रिजिजू और सुप्रीम कोर्ट के मुख्य…

Kiren Rijiju : मंत्रालय छिनने के बाद रिजिजू ने चलाये व्यंग्य बाण, सीजेआई को किया धन्यवाद

Kiren Rijiju केन्द्र की मोदी सरकार में कानून मंत्रालय का कार्यभार देख रहे किरेन रिजिजू और सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड के बीच कई मुददों पर टकराव किसी से छुपा नहीं है। अब रिजिजू से मंत्रालय छीन लिया गया है। इसके बावजूद उनहोंने सीजेआई.(CJI) को धन्यवाद किया है।

Kiren Rijiju

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सलाह पर केन्द्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू को हटा कर नया कानून मंत्री अर्जुन मेघवाल को बनाया गया है। मंत्रालय छिनने के बाद किरेन ने व्यंग्य बाण चलाया है।

प्रतिक्रिया में क्या कहा
रिजिजू ने जिम्मेदारी बदले जाने पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वह मुख्य न्यायाधीश डी.वाई चन्द्रचूड व अन्य न्यायाधीशों तथा मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों का उनके समर्थन के लिए आभार जताते हैं। केन्द्रीय मंत्री के रूप में सेवा करना मेरे लिए सौभाग्य की बात है। मुख्य न्यायाधीश समेत पूरी न्याय पालिका को उनके समर्थन के लिए धन्यवाद।

पब्लिक प्लेटफार्म पर लाये टकराव
न्यायपालिका व सरकार के बीच लड़ाई कोई नई नहीं है। लेकिन किरेन रिजिजू इस लड़ाई को सार्वजनिक प्लेटफार्म पर ले आए थे। कॉलेजियम व्यवस्था को लेकर किरेन रिजिजू लगातार सवाल उठा रहे थे। सार्वजनिक तौर पर किरेन न्यायपालिका व न्यायाधीशों को लेकर तंज कसते थे। उन्होंने पूर्व जजों को लेकर भी विवादित बयान दिया था। किरेन के बयानों से सरकार व न्यायपालिका के बीच दूरियां बढऩे लगी थीं।

2018 में पहली बार सडक़ पर आई थी लड़ाई
देश में पहली बार सरकार व न्यायपालिका के बीच की लड़ाई सडक़ पर आ गई थी। सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस मदन लोकुर, जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस रंजन गोगोई ने कई सवाल खड़े किए थे। न्यायाधीशों का कहना था कि प्रशासन ठीक से नहीं चल रहा है। उस समय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद थे। दो साल बाद उन्हें हटाकर रिजिजू को कानून मंत्री बनाया गया था।

Karnataka News : शपथ ग्रहण समारोह से विपक्षी एकजुटता का संदेश देगी कांग्रेस

Related Post