Sunday, 14 July 2024

यात्री से टिकट मांगना पड़ा टीटीई को भारी, हुआ दर्दनाक अंजाम

Kerala News : केरल से इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली एक घटना सामने आई हैं। केरल के त्रिशूर जिले…

यात्री से टिकट मांगना पड़ा टीटीई को भारी, हुआ दर्दनाक अंजाम

Kerala News : केरल से इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली एक घटना सामने आई हैं। केरल के त्रिशूर जिले मे ट्रेन मे बिना टिकट यात्रा कर रहें एक यात्री ने टीटीई को चलती ट्रेन से कथित तौर पर धक्का दे दिया। ट्रेन से गिरने के बाद टीटीई की मौके पर मौत हो गई।

क्या है पूरा मामला ?

मिली जानकारी के अनुसार पूरी घटना केरल के त्रिशूर की है जब एक बिना टिकट यात्रा कर रहे व्यक्ति ने टीटीई को चलती हुई ट्रेन से धक्का दे दिया। यह घटना उस समय की है जब एक टीटीई विनोद सुपरफास्ट ट्रेन मे टिकट चेक कर रहे थे। टिकट चेकिंग के दौरान उन्होने एक यात्री से टिकट मांगी, तो उस यात्री ने उन्हे धक्का दे दिया। जिससे घटना स्थल पर ही उनकी मौत जो गई। यह घटना केरल के एर्नाकुलम से पटना जा रही ट्रेन के कोच नंबर एस11में हुई। पुलिस के मुताबिक आरोपी प्रवासी मजदूर है और उसे पलक्कड़ से हिरासत में ले लिया गया है।

पटरी पर गिरने से चली गई जान

टिकट चेकिंग के दौरान प्रवासी मजदूर के पास टिकट नहीं मिला। जिसकी वजह से टीटीई  विनोद ने उसे अगले स्टेशन पर आरक्षित कोच से निकलने को कहा तो वह गुस्सा हो गया। उस मजदूर ने विनोद को चलती ट्रेन से धक्का दे दिया। जिससे वह तत्काल ट्रेन से नीचे पटरी पर गिर गए और बगल से आ रही दूसरी ट्रेन की चपेट मे आ गई। जिसकी वजह से घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई।

Kerala News

आरोपी ने किया गुनाह स्वीकार

जानकारी के मुताबिक आरोपी उड़ीसा का एक प्रवासी मजदूर हैं। जिसे बाद मे पलक्कड़ से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसका नाम रजनीकांत है और उस ने पुलिस पूछताछ के दौरान अपना आरोप स्वीकार कर लिया हैं। उसका कहना है कि उसके पास टिकट ना होने की वजह से उसने टीटीई को चेकिंग के समय धक्का दिया। घटना की जानकारी मिलते ही रेलवे पुलिस ने उस आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया हैं।

बड़ी बात : एक दिन गुजरे जमाने की बात बन जाएगा सोशल मीडिया, आशंका शुरू

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post