Tuesday, 23 July 2024

रंगदारी मामले में पप्पू यादव को मिली राहत,बोले साजिश का करूंगा खुलासा

Pappu Yadav Bail :  पप्पू यादव के पूर्णिया से चुनाव जीतने के बाद वह एक आपराधिक मामले में घिरते नजर…

रंगदारी मामले में पप्पू यादव को मिली राहत,बोले साजिश का करूंगा खुलासा

Pappu Yadav Bail :  पप्पू यादव के पूर्णिया से चुनाव जीतने के बाद वह एक आपराधिक मामले में घिरते नजर आ रहे थे । जिससे उनकी जीत का जोश कुछ ठंडा पड़ गया था, लेकिन अब खबर आ रही है कि पप्पू यादव को रंगदारी मामले में बड़ी राहत मिल गई है।

पूर्णिया से सांसद पप्पू यादव को रंगदारी मामले में बड़ी राहत

पूर्णिया से सांसद पप्पू यादव को रंगदारी मामले में बड़ी राहत मिली है। इस मामले में उन्हें कोर्ट से जमानत मिल गई है। जमानत मिलने के बाद पप्पू यादव ने कोर्ट के प्रति आभार जताया है साथ ही उन्होंने बताया कि क्या वजह थी जो उनके खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया गया । आपको बता दें कि पप्पू यादव ने 2024 लोकसभा चुनाव बिहार के पूर्णिया से निर्दलीय के रूप में लड़ा था हालांकि पप्पू यादव कांग्रेस पार्टी में है। लेकिन पूर्णिया से गठबंधन द्वारा उम्मीदवार न बनाए जाने पर उन्होंने नाराजगी जताते हुए पूर्णिया से निर्दलीय ही चुनाव लड़ा था । लेकिन उनका कहना था कि वह कांग्रेस को नहीं छोड़ेंगे और चुनाव जीतने के बाद पप्पू यादव ने कांग्रेस आला कमान का आभार भी जताया था।

 

पूर्णिया में फर्नीचर व्यवसायी ने पप्पू यादव पर सवा करोड की रंगदारी मांगने का लगाया था आरोप

लेकिन चुनाव जीतने के कुछ ही दिनों बाद  पूर्णिया में एक फर्नीचर व्यवसायी ने पप्पू यादव पर रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया था । हालांकि मामला 2021 का था लेेेकिन व्यवसायी ने पप्पू यादव के चुनाव जीतने के बाद FIR दर्ज कराई थी। फर्नीचर व्यापारी राजा भगत का आरोप था कि पप्पू यादव ने उनसे लाखों के फर्नीचर की मांग की थी और रंगदारी भी मांगी थी। व्यवसायी राजा भगत ने 10 जून को पप्पू यादव पर सवा करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला दर्ज कराया था। पप्पू यादव और उनके सहयोगी अमित यादव पर एफआईआर दर्ज कराई थी। फर्नीचर व्यापारी ने आरोप लगाया था कि 2 अप्रैल 2021 को उनसे 10 लाख की रंगदारी मांगी गई थी। इसके बाद अक्टूबर 2023 में दुर्गा पूजा के दौरान उनसे व्हाट्सएप्प कॉल कर 25 लाख रुपए और 2 सोफासेट की मांग की गई थी। फिऱ उन्हें 4 जून को फोन कर एक करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी और फोन पर उन्हें डराया धमकाया गया कि एक करोड रुपए दो नहीं तो पूर्णिया छोड़कर निकल जाओ ।

साजिश करने वालों को बेनकाब करेंगें

पप्पू यादव ने कहा कि फर्नीचर व्यापारी राजा भगत के पीछे उनके विरोधी उन्हें फंसाने की साजिश ऱच रहे हैं। इसमें बड़े अधिकारी भी शामिल हो सकते हैं। सिविल कोर्ट से जमानत मिलने के बाद पप्पू यादव ने न्यायालय का आभार जताते हुए कहा, सुनियोजित साजिश के तहत उन्हें बदनाम करने के लिए यह मामला दर्ज किया गया था । वो जल्द ही साजिश करने वालों को बेनकाब करेंगें।

गुजरात की इस महिला ने क्राउड फंडिंग से जीता लोकसभा चुनाव

Related Post