Tuesday, 23 July 2024

गूगल ने शुरू किया ‘रहो दो कदम आगे’ अभियान, जानें क्या है इसकी खासियत

Raho Do Kadam Aagey : विश्व की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी और सर्च इंजन गूगल ने एक विशेष प्रकार का…

गूगल ने शुरू किया ‘रहो दो कदम आगे’ अभियान, जानें क्या है इसकी खासियत

Raho Do Kadam Aagey : विश्व की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी और सर्च इंजन गूगल ने एक विशेष प्रकार का अभियान शुरू किया है। इस अभियान को गूगल ने ‘रहो दो कदम आगे’ (Raho Do Kadam Aagey) नाम दिया है। आखिर गूगल ने यह अभियान क्यों शुरू किया और वह भारत ही नहीं पूरे विश्व के लोगों को इस अभियान की जानकारी क्यों दे रहा है।

Raho Do Kadam Aagey

दरअसल, आपको बता दें कि गूगल ने ‘रहो दो कदम आगे’ अभियान विश्वभर के लोगों को जागरुक करने के लिए शुरू किया है। यह अभियान न केवल गूगल बल्कि अन्य इंटरनेट कंपनियों तथा सोशल मीडिया कंपनियों के प्लेटफार्म पर भी तेजी से ट्रेंड कर रहा है। आपको बता दें कि जिस तरह से इंटरनेट का यूज करने वाले लोगों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है, उसी रफ्तार से साइबर ठग भी तेजी से पनप रहे हैं। साइबर जालसाजों द्वारा मोबाइल पर लिंक शेयर करके, मोबाइल कॉल करके और ईमेल के जरिए लोगों को ठग रहे हैं। जनता को इन ठगों से बचाने के लिए ही गूगल ने रहो दो कदम आगे अभियान की शुरूआत की है।

अपने इस अभियान के तहत गूगल ने कुल चार तरह के विज्ञापन मार्किट में उतारे है। यह विज्ञापन सोशल मीडिया के साथ साथ टीवी पर भी प्रसारित किए जा रहे हैं। चार विज्ञापनों की श्रृंखला में, गूगल इंटरनेट उपयोगकर्ताओं से दो चरणों का पालन करके ‘रहो दो कदम आगे’ का आग्रह करता है – एक, कभी भी संदिग्ध लिंक पर क्लिक न करें और दूसरा, कभी भी अपने बैंक विवरण साझा न करें।

चारों विज्ञापन अलग-अलग तरीके दिखाते हैं जिनके द्वारा स्कैमर्स अविश्वसनीय और आकर्षक ऑफ़र के साथ उपयोगकर्ताओं को धोखा देते हैं। विज्ञापनों में Google के सुरक्षा केंद्र पर लॉग इन करने के लिए कॉल टू एक्शन भी होता है। अभिनेता राजकुमार राव का एक विज्ञापन इंटरनेट पर ‘रसदार सौदों’ की बात करता है।

अभिनेता सान्या मल्होत्रा ​​के साथ एक अन्य विज्ञापन में एक ऑनलाइन लॉटरी का संकेत मिलता है। अभिनेत्री नीना गुप्ता ने बिना ब्याज वाले होम लोन के मिथक को तोड़ा।
इसने तेलुगु में अभिनेता राणा दग्गुबाती के साथ एक विज्ञापन भी निकाला है। विज्ञापन इस बात पर प्रकाश डालता है कि कैसे घोटालेबाज बिजली बिल भुगतान के लिए नकली वेबसाइट बनाकर सरकारी निकायों की भूमिका भी निभा सकते हैं।

Google ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) के साथ मिलकर जनहित में अभियान जारी किया है। मंच ने पिछले साल भी सुरक्षित इंटरनेट उपयोग के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया था।

लोव लिंटास के अभियान में उद्यमियों और एसएमई व्यवसाय मालिकों को शामिल किया गया, जो अपने व्यवसाय से संबंधित दैनिक कार्यों को पूरा करने के लिए Google टूल्स का उपयोग करते हैं। विज्ञापनों में इस बात पर प्रकाश डाला गया कि कैसे Google टूल्स उन्हें घोटालों और फ़िशिंग हमलों से सुरक्षित रखने में मदद करते हैं और उनकी गोपनीयता को बरकरार रखते हैं और उनके व्यवसायों को सुचारू रूप से चलाते हैं।

World Tourism Day 2023: कम बजट में इन जगहों पर ले घूमने का मजा

देश विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post