Friday, 19 July 2024

बैंकों से कर्ज लेने में सबसे आगे है उत्तर प्रदेश के उद्योगपति

UP News :  उत्तर प्रदेश के उद्योगपति नए-नए काम करते रहते हैं। हाल ही में पता चला है कि उत्तर…

बैंकों से कर्ज लेने में सबसे आगे है उत्तर प्रदेश के उद्योगपति

UP News :  उत्तर प्रदेश के उद्योगपति नए-नए काम करते रहते हैं। हाल ही में पता चला है कि उत्तर प्रदेश के उद्योगपति बैंकों से लोन यानि कि कर्ज लेने के मामले में अव्वल साबित हो रहे हैं। उत्तर प्रदेश के उद्योगपतियों ने केवल एक साल में बैंकों से 2 लाख करोड़ रूपए का लोन लिया है। उत्तर प्रदेश के किसानों ने भी एक साल में बैंकों से 25 हजार करोड़ रूपए का लोन लिया है।

उत्तर प्रदेश के उद्योगपति हैं अव्वल

उत्तर प्रदेश में तेजी से हो रहे औद्योगिकीकरण का ताजा उदाहरण पता चला है कि उत्तर प्रदेश के उद्योगपतियों ने बीते एक साल में अलग-अलग बैंकों से 2 लाख करोड़ रूपए का लोन ले लिया है। लोन लेने के मामले में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उद्योगपति सबसे आगे हैं। 2 लाख करोड़ लोन में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उद्योगपतियों की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत से भी अधिक है।

तेजी से आगे बढ़ रहे हैं उत्तर प्रदेश के उद्योग

UP News

उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास पर किए गए एक सर्वे में सकारात्मक तथ्य प्रकाश में आए हैं। सर्वे में बताया गया है कि उत्तर प्रदेश में उद्योगों ने रफ्तार पकड़ ली है। इसी का नतीजा है कि एक साल में लोन 8.50 लाख करोड़ से बढक़र 10.34 लाख करोड़ हो गया यानी एक साल में बाजार ने 1.86 लाख करोड़ का लोन ज्यादा लिया। कृषि लोन में 25 हजार करोड़ और एमएसएमई लोन में 40 हजार करोड़ रुपये की ग्रोथ दर्ज की गई है।
प्रदेश में कारोबार की स्थिति में सुधार हुआ है। बैंकों के कुल कारोबार में पिछले दो साल में जबर्दस्त तेजी आई है। 31 मार्च, 2022 को बैंकिंग कारोबार 7.31 लाख करोड़ रुपये का था। 31 मार्च, 2024 को यही कारोबार बढक़र 10.34 लाख करोड़ रुपये हो गया। ऋण-जमा अनुपात (सीडीआर) रेशियो में भी एक साल में चार फीसदी की वृद्धि हुई है। पिछले साल मार्च में सीडीआर 54.54 फीसदी था जो इस मार्च में बढक़र 58.72. फीसदी हो गया। इससे साफ है कि कारोबारियों में लोन लेने की क्षमता बढ़ गई है।

UP News

छोटे उद्यमियों में लोन लेने की क्षमता बढ़ गई है। पिछले वित्त वर्ष की तुलना में इस वित्त वर्ष में करीब 39 हजार करोड़ रुपये का लोन उन्होंने ज्यादा लिया है। वहीं किसानों की बात करें तो इसी अवधि में उन्होंने करीब 25 हजार करोड़ रुपये का लोन ज्यादा लिया। बैंकों द्वारा कुल दिए गए लोन में कमजोर वर्ग का भी खासा ध्यान रखा गया है। इस वर्ग को इसी अवधि में 14 हजार करोड़ रुपये का लोन ज्यादा दिया गया है।

बहुत जल्दी उद्योगों का प्रदेश बनेगा उत्तर प्रदेश, तेजी से हो रहा है काम

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post