Sunday, 14 July 2024

आंखों की रोशनी बचाने के लिए डाइट में करें ये फूड्स शामिल

शरीर में आंख की प्रमुख भूमिका होती है। इसके बिना जीवन जीना मुश्किल होता है। आंख की समस्या को लेकर…

आंखों की रोशनी बचाने के लिए डाइट में करें ये फूड्स शामिल

शरीर में आंख की प्रमुख भूमिका होती है। इसके बिना जीवन जीना मुश्किल होता है। आंख की समस्या को लेकर कभी भी लापरवाही न करें क्योंकि ये बहुत ही संवेदनशील हिस्सा होता है। दरहसल आज कल व्यक्ति अपना समय मोबाइल, लैपटोप, कंप्यूटर जैसे इलेक्ट्रोनिक उपकरणों में लगाते है, जिससे हमारी आंख पर बुरा प्रभाव पड़ता है। अधिकांश देखा होगा कि व्यक्ति किसी उपकरण पर ज्यादा समय देता हो तो उसकी आंखों में पानी आने लगता है। अधिक काम करने वाले लोगों की आंखों को पूरी तरह आराम नहीं मिलता है। वहीं व्यक्ति को खान-पान पर विशेष ध्यान रखना होता है। लापरवाही के कारण लोगों की आंखों पर गहरा असर पड़ता है। आंख से संबंधित समस्या वालों की कतार सी लग गई है।


नेत्र रोग विशेषज्ञ के मुताबिक काम के एवज में खान-पान पर लोगों को ध्यान देना जरूरी है। इसके लिए आंवला काफी फायदेमंद साबित होता है। रोशनी को बढ़ाने में आंवला रामबाण माना गया है। इसका पाउडर बनाकर या पानी में भिंगोकर खा सकते है। भींगे हुए पानी से आंखों को धोना अनिवार्य है। इसके अलावा गाजर भी आंखों के लिए सेहतमंद साबित होती है। इसमें बीटाकैराटीन और विटामिन ए की मात्रा पाई जाती है। पत्ते दार हरी सब्जी भी आंखों की रोशनी बढ़ाने में मददगार साबित होती है। इनमें एंटी ऑक्सीडेंट, ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन पाया जाता है। हरी सब्जी इम्यूनिटी पॉवर के साथ आंखों के लिए लाभदायक होती है।

इसके अलावा मछली को डाइट में शामिल करने से आंख की रोशनी में फायदा होता है। इसके सेवन से रेटिना मजबूत होती है। बादाम में विटामिन ए,ई होने से आंख की समस्या को खत्म करने में सहायक होती है। साथ ही दिमाग फ्रेश करता है। आंख की समस्या के लिए सबसे अचूक उपचार लौकी का जूस होता है। इसमें कई एंटीऑक्सीडेंट गुण के साथ विटामिन ए की मात्रा अधिक पाई जाती है। ज्ञात हो कि आंख के बिना सपने अंधकार में चले जाते है। रोशनी को बरकरार करने के लिए सावधानी जरूर बरतें। जीवन को सही मायने जीना है तो आंख की समस्या को नजर अंदाज न करें। रोशनी है तो जीवन आसान है, और अंधों का सहारा ढूढ़ना मुश्किल है।

Related Post